1983 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे यशपाल शर्मा का दिल का दौरा पड़ने से हुआ निधन

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी और 1983 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे यशपाल शर्मा का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 66 साल के थे।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व टेस्ट बल्लेबाज और 1983 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य यशपाल शर्मा का मंगलवार को नोएडा में उनके घर पर निधन हो गया। वह 66 वर्ष के थे। शर्मा को मॉर्निंग वॉक से लौटने के बाद दिल का दौरा पड़ा और सुबह करीब साढ़े सात बजे उन्होंने अंतिम सांस ली।

दाएं हाथ के बल्लेबाज, जो 1983 विश्व कप में भारत के मध्य क्रम की रीढ़ थे, ने 37 टेस्ट मैच खेले, जिसमें 1606 रन बनाए और 42 एकदिवसीय मैचों में 883 रन बनाए। उन्होंने पंजाब, हरियाणा और रेलवे का प्रतिनिधित्व करते हुए 160 प्रथम श्रेणी मैच भी खेले और 8933 रन बनाए।

लेकिन 1983 में भारत की पहली विश्व कप जीत में उनके प्रदर्शन के लिए उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सबसे ज्यादा याद किया गया। वह टूर्नामेंट में कप्तान कपिल देव के बाद भारत के लिए दूसरे सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी रहे। यशपाल ने विश्व कप में 34.28 की औसत से 240 रन बनाए।

शर्मा ने 1983 विश्व कप के अपने पहले मैच में वेस्टइंडीज पर 34 रन की जीत में भारत को 262/8 बनाने में मदद करने के लिए 89 (120 गेंदों पर) स्कोर किया था। मैनचेस्टर में उस जीत ने भारत को आगे बढ़ने और टूर्नामेंट जीतने का आत्मविश्वास दिया।