काला नमक सफेद नमक से क्यों है बेहतर? जानिए इसके हेल्थ फायदे

काला नमक पारम्परिक तरीकों से तैयार होता है इसलिए कई मिनरल्स से भरा होता है. यही वजह है की पेट को दुरुस्त करने वाला काला नमक सफ़ेद नमक से बेहतर ऑप्शन है.

काले नमक में ज्यादा मिनरल्स और कम सोडियम होता है
काला नमक सेवन करने से पेट, त्वचा और बालों की स्वस्थ सही रहता है
काले नमक में ख़ास जायका और स्वाद होता है

फायदे: खाने में स्वाद लाने वाला सबसे ज़रूरी मसाला है नमक, इसके बिना खाने का कोई स्वाद नहीं होता है. लेकिन यही नमक स्वाद के साथ ही सोडियम का भी पिटारा है, जिसका ज्यादा सेवन सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है. नमक खाना तो छोड़ नहीं सकते, तो अब क्या इस सोडियम का सेवन करते रहें? जी नहीं! नमक से दूरी बनाने की कोई ज़रूरत नहीं है, ज़रूरत है तो बस इसके बेहतर विकल्प का रुख करने की.

साधारण सफ़ेद नमक का एक सबसे बढ़िया विकल्प है काला नमक. जड़ी बूटियों के केंद्र हिमालय की रॉक्स से मिलने वाला हिमालयन ब्लैक सॉल्ट काले नमक का सबसे ज्यादा यूज होने वाला टाइप है. नाम काला नमक है पर इसका रंग गुलाबी भूरा होता है. इसे आयुर्वेद में दवाई माना जाता है, जिसे अलग अलग तरीकों से उपयोग में लाया जाता है. आइए जानते हैं क्यों काला नमक सफ़ेद नमक से बेहतर है,

काला नमक सफेद नमक से क्यों है बेहतर, जानिए :
 काले नमक में सफ़ेद नमक से कम सोडियम होता है. सफ़ेद नमक खाने से हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत हो सकती है. लेकिन कम सोडियम होने के कारण हाई ब्लड प्रेशर में भी काले नमक का सेवन किया जाता है.

सफेद नमक तैयार करते समय ढेरों प्रोसेस होते हैं, जिनमें ढेरों मशीनें काम में आती हैं, जिसके कारण इसमें पोटेशियम आयोडेट और एल्यूमीनम सिलीकेट जैसे हानिकारक तत्त्व आ जाते हैं. ये टिश्यू डैमेज के साथ कई घातक बीमारियां पैदा करते हैं. दूसरी ओर काला नमक पारम्परिक तरीकों और थोड़ी सी प्रोसेसिंग के जोड़ से मिल जाता है और इसमें कोई हानिकारक एलीमेंट्स नहीं होते हैं.

काला नमक जड़ी बूटियों और मसालों के साथ मिलाकर, तपती आग में जलाकर तैयार किया जाता है. इसकी कोई बड़ी प्रोसेसिंग नहीं होती जिस वजह से इसमें ट्रेस मिनरल्स का भंडार होता है

ज्यादा मिनरल्स काले नमक के स्वाद और फ्लेवर को भी खास बनाते हैं. इससे बने खाने में गंधक की सुगंध होती है. काले नमक में मौजूद मिनरल्स स्किन और बालों के लिए भी फायदेमंद होते हैं. काला नमक गैस, एसिडिटी जैसी परेशानियां भी दूर करता है और पेट को हेल्दी बनाता है.