Thursday, January 27, 2022
spot_img

यूपी में जब मेरे गुरु जी की जमीन पर कब्जा हुआ और मैं कुछ नहीं कर पाया, किरण रिजीजू ने ऐसे साधा अखिलेश पर निशाना

केन्द्रीय कानून मंत्री किरण रिजिजू (Kiren Rijiju) ने उत्तर प्रदेश में पूर्ववर्ती अखिलेश यादव सरकार में कानून-व्यवस्था चौपट होने और कब्जा करने वालों का बोलबाला होने का अपना निजी अनुभव साझा करते हुए बताया कि पिछली सरकार में उनके अपने गुरु जी की संपत्ति पर कब्जा हुआ और बतौर केन्द्रीय मंत्री वह कुछ नहीं कर पाए।

रिजिजू ने शुक्रवार को देर शाम लखनऊ में आयोजित अधिवक्ता समागम में बताया कि 2014 में उनके गुरु जी की जमीन पर कब्जा होने पर उन्होंने कार्रवाई के लिए जब संबद्ध पुलिस अधिकारी से बात की, मगर फिर भी कुछ नहीं हो सका।

उन्होंने बताया कि मैं अरुणाचल प्रदेश का रहने वाला हूं, जहां से सूर्योदय होता है। मेरे गुरु उत्तर प्रदेश के रहने वाले शिक्षक थे। कुछ माफियाओं ने 2014 में मेरे गुरु जी की ही जमीन पर कब्जा कर लिया था।

कानून मंत्री ने बताया कि उस समय मैं केंद्र सरकार में मंत्री था। मैंने जिस पुलिस अफसर को फोन कर गुरु जी की मदद करने का अनुरोध किया तो उस समय की सरकार ने उस पुलिस अधिकारी का ही तबादला कर दिया। बाद में जब प्रदेश में भाजपा सरकार बनी तब मैं अपने गुरु जी को उनकी जमीन वापस दिला पाया। 

रिजिजू ने कहा कि पहले की सरकार और अब की सरकार में इसी फर्क को अब लोग महसूस कर रहे हैं। लोग यह महसूस कर रहे हैं कि भू-माफियाओं का तब कितना बोलबाला था। उन्होंने कहा कि अगर उत्तर प्रदेश आगे बढ़ेगा तो देश भी प्रगति करेगा, इसीलिए उत्तर प्रदेश को प्रगति के पथ पर ले जाने वाली योगी सरकार, राष्ट्रीय विकास को आगे बढ़ाने के लिए फिर से सत्ता में वापसी करेगी।

रिजिजू ने कहा कि उत्तर प्रदेश में वर्ष 2017 के बाद कानून-व्यवस्था फिर से पटरी पर लौटी है। उन्होंने कहा कि इससे पहले हालात इतने खराब थे कि जबरन कब्जा तथा संगठित अपराध से पूरा प्रदेश त्रस्त था। उन्होंने कहा कि पिछले दौर को प्रदेश की जनता भूली नहीं है और पिछले पांच साल में सुशासन को महसूस करने के बाद जनता ने योगी सरकार का फिर प्रदेश में ‘अरुणोदय’ करने का पूरा मन बना लिया है।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,143FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles