यूक्रेन के ज़ापोरिज्जिया शहर में नागरिकों के काफिले पर रूस का मिसाइल अटैक, कम से कम 30 मरे

यूक्रेन के 18 फीसदी हिस्से को अपने देश में शामिल करके भी रूस की ‘भूख’ शांत नहीं हुई है। दुनियाभर के देशों से निंदा और प्रतिबंधों की मार झेलने के बावजूद रूसी सेना यूक्रेन में तबाही जारी रखे हुए है। सीएनएन की रिपोर्ट है कि शुक्रवार को यूक्रेन के जापोरिज्जिया शहर में एक नागरिक काफिले पर रूसी मिसाइल के हमले में कम से कम 30 लोग मारे गए और 88 घायल हो गए।

ज़ापोरिज्जिया क्षेत्रीय सैन्य प्रशासन के प्रमुख ऑलेक्जेंडर स्टारुख ने टेलीग्राम पर कहा, “दुश्मन ने ज़ापोरिज्जिया से बाहर निकलते समय एक नागरिक मानवीय काफिले पर रॉकेट हमला किया।” सीएनएन ने यूक्रेन की राष्ट्रीय पुलिस के प्रमुख इहोर क्लाइमेंको के हवाले से बताया कि हमले में मारे गए लोगों में एक 11 साल की लड़की और एक 14 साल का लड़का शामिल है।

गौरतलब है कि इससे पहले रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने शुक्रवार को औपचारिक रूप से चार क्षेत्रों – डोनेट्स्क, लुहान्स्क, खेरसॉन और ज़ापोरिज्जिया के विलय की घोषणा की और दावा किया कि “यह लाखों लोगों की इच्छा है।” मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, पुतिन ने इन राज्यों में प्रमुखों की नियुक्ति के बाद कहा कि चारों क्षेत्रों के निवासी अब रूस के “हमेशा के लिए नागरिक” होंगे।