अब प्रधानमंत्री से सीधे करे संवाद, कहे अपने भी मन की बात, ये है PMO के संपर्क सूत्र जानिए आप

कई बार लोग कुछ सरकारी विभागों के काम की वजह से परेशान रहते हैं. उनकी शिकायत होती है कि सरकारी विभाग में उनकी सुनवाई नहीं हो रही है. ऐसे लोग कई उच्च अधिकारियों या सरकार शिकायत पोर्टल पर शिकायत भी करते हैं, लेकिन वो उनकी कार्रवाई से संतुष्ट नहीं होते हैं. इस स्थिति में कई लोगों की इच्छा होती है कि वो अपनी शिकायत को प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंचाए ताकि उनकी शिकायत पक कार्रवाई हो सके.अगर आपके साथ भी ऐसी दिक्कत है या फिर आप किसी और कारणवश भी प्रधानमंत्री कार्यालय में अपनी शिकायत दर्ज करवाना चाहते हैं तो आप करवा सकते हैं. आप घर बैठे ऑनलाइन माध्यम से अपनी शिकायत प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंचा सकते हैं.

ऐसे में जानते हैं कि आप किस तरह अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं और उस शिकायत पर पीएफ ऑफिस की ओर से किस तरह कार्रवाई की जाती है.
*पीएम ऑफिस में किस तरह कर सकते हैं शिकायत?*आप प्रधान मंत्री कार्यालय की वेबसाइट https://www.pmindia.gov.in/hi पर जाएं. इसके बाद प्रधानमंत्री के साथ बातचीत करें (ड्रॉप डाउन मेन्यू से)->प्रधानमंत्री को लिखें पर . आप ‘प्रधानमंत्री को लिखें’ का उपयोग करते हुए माननीय प्रधान मंत्री/ प्रधानमंत्री कार्यालय को कोई भी शिकायत भेजी जा सकती है. यह लिंक प्रधान मंत्री कार्यालय की वेबसाइट www.pmindia.gov.in/hi के होम पेज पर भी उपलब्ध है.

इसके बाद आपके सामने CPGRAMS पेज खुल जाएगा, जहां शिकायत दर्ज कराई जाती है और शिकायत दर्ज कराने के बाद, एक रजिस्ट्रेशन नंबर आ जाता है. नागरिकों के पास शिकायत से संबंधित संगत दस्तावेजों को अपलोड करने का विकल्प भी होता है. इसमें आप अपनी मांगी गई जानकारी भरें, जिसमें आपकी निजी जानकारी से लेकर आपकी शिकायत की जानकारी शामिल होती है.लिखकर भी भेज सकते हैं शिकायत?आप अपनी शिकायत माननीय प्रधानमंत्री/ प्रधानमंत्री कार्यालय को डाक के जरिए भी भेज सकते हैं. इसके लिए एड्रेस है- प्रधान मंत्री कार्यालय, साउथ ब्लॉक, नई दिल्ली, पिन – 110011. इसके अलावा फैक्स के जरिए शिकायत भेजने के लिए FAX No. 011-23016857 पर भेज दें.
*कैसे होती है कार्रवाई?*दरअसल, प्रधान मंत्री कार्यालय को भारी संख्या में शिकायतें मिलती हैं, जो विभिन्न मंत्रालयों/विभागों या राज्य/संघ शासित सरकारों के विषय क्षेत्र से संबंधित होती हैं. प्रधान मंत्री कार्यालय के जनता प्रकोष्ठ में पत्रों पर कार्रवाई करने के संबंध में एक समर्पित टीम होती है, जिसके द्वारा शिकायतों पर काम किया जाता है. इसके साथ ही इसके बाद, लोक शिकायत निपटान एवं मॉनिटरिंग प्रणाली (CPGRAMS) के माध्यम से शिकायत कर्ता को जवाब भी दिया जाता है.