Monday, August 8, 2022
spot_img

नगरोटा एनकाउंटर: पाक में बैठे हैंडलर्स के लगातार संपर्क में थे आतंकी, बरामद किए गए गए पाकिस्तानी निर्मित इस सामान से हुई पुष्टि

जम्मू. गुरुवार को सुरक्षाबलों ने जम्मू शहर के बाहर श्रीनगर हाईवे पर नगरोटा के बन टोल प्लाजा पर चार आतंकियों को मार गिराया था। पुलिस ने मुठभेड़ के बाद ट्रक से भारी मात्रा में हथियारों के अलावा कई ऐसे कई ऐसे सामान बरामद किए हैं जो आतंकियों को पाकिस्तानी लिंक की साफ तौर पर पुष्टि करते हैं। आतंकियों ने पास से पुलिस ने एक डिजिटल मोबाइल रेडियो बरामद किया है जो  पाकिस्तानी कंपनी माइक्रो इलॉक्ट्रोनिक्स द्वारा बनाया गया है। इस Digital mobile radio पर जो संदेश मिले हैं, उससे इस बात की पुष्टि हुई है कि आतंकी लगातार सीमापार बैठे अपने हैंडलर्स के संपर्क में थे। इसके अलावा आतंकियों के पास से एक पाकिस्तानी कंपनी Q Mobile द्वारा निर्मित स्मार्ट फोन, पाकिस्तान में बनी हुई दवाईयां, जूते, वायरलेस सेट और GPS डिवाइस भी बरामद की गई है।

Image Source : PTI

आपको बता दें कि जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर गुरुवार को हुई मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के चार संदिग्ध आतंकवादी मारे गए जबकि दो पुलिसकर्मी घायल हो गए।

पुलिस के शीर्ष अधिकारियों ने यह जानकारी दी। अधिकारियों ने बताया कि जम्मू शहर के बाहरी इलाके में, हाल ही में घुसपैठ करने वाले आतंकवादियों को ला रहे एक ट्रक को रोका गया तभी मुठभेड़ शुरू हो गई। जम्मू के पुलिस महानिरीक्षक मुकेश सिंह ने कहा कि आतंकवादी ”बड़ी साजिश” को अंजाम देने के इरादे से आए थे, जिसे नाकाम कर दिया गया है।

पढ़ें- नगरोटा एनकाउंटर:4 आतंकियों को मारकर सेना ने बड़ा हमला नाकाम किया- पीएम मोदी

सुरक्षा बलों की इस सफलता पर प्रतिक्रिया देते हुए उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा, ”कोई भी बाहरी ताकत शांति और प्रगति के हमारे रास्ते से हमें नहीं भटका सकती।” कश्मीर के पुलिस महानिरीक्षक विजय कुमार ने श्रीनगर में कहा कि चार आतंकवादी इस महीने के अंत में होने वाले जिला विकास परिषद (डीडीसी) चुनाव की प्रक्रिया को बाधित करना चाहते थे क्योंकि पाकिस्तान राजनीतिक प्रक्रिया में बाधाएं डालने का प्रयास कर रहा है।

पढ़ें- कोरोना अपडेट: देश में 24 घंटे में आए 46 हजार नए केस, कुल 90.50 लाख संक्रमितों में 85 लाख ठीक हुए

वहीं, जम्मू के पुलिस महानिरीक्षक मुकेश सिंह ने जम्मू में पत्रकारों को विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि डीसीसी चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा होने के बाद से पुलिस को जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा संभावित घुसपैठ किये जाने की सूचनाएं मिल रही हैं। सिंह ने कहा, ”हमने अपनी सभी टीमों को चौकियों पर तैनात किया था। खुफिया जानकारी मिली थी कि आतंकवादी भारी मात्रा में हथियार और विस्फोटक के साथ घुसपैठ कर सकते हैं।”

पुलिस अधिकारी ने कहा कि नगरोटा के बन इलाके में टोल प्लाजा के पास आज सुबह पांच बजे एक ट्रक को जांच के लिये रोका गया, लेकिन ट्रक चालक वाहन को छोड़कर भाग गया। सीआरपीएफ और पुलिसकर्मियों ने जैसे ही वाहन की तलाशी लेनी शुरू की, ट्रक में छिपे आतंकवादियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। सिंह के अनुसार आतंकवादियों से आत्मसमर्पण के लिये कहा गया, लेकिन उन्होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। उन्होंने कहा कि अन्य सुरक्षा बल भी इसमें शामिल हो गए, जिसके बाद भीषण गोलीबारी हुई। इस दौरान आतंकवादियों ने ग्रेनेड फेंके और गोलीबारी की।

पुलिस अधिकारी ने कहा कि तीन घंटे चली मुठभेड़ में चार आतंकवादी मारे गए जबकि दो पुलिसकर्मी घायल हो गए। उन्होंने कहा कि चावल के कट्टों से भरे ट्रक में मुठभेड़ के दौरान आग लग गई। ट्रक के अंदर छिपे आतंकवादियों के शव बरामद कर लिये गए हैं। सिंह ने कहा कि मारे गए आतंकवादियों के पास से 11 एके राइफल, तीन पिस्तौल, 24 मैगजीन, 29 ग्रेनेड, छह यूबीजीएल ग्रेनेड बरामद हुए हैं। इसके अलावा उनके पास से भारी मात्रा में दवाएं, विस्फोटक सामग्री, तारों के बंडल, इलेक्ट्रोनिक सर्किट और थैले बरामद हुए हैं। 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,428FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles