Monday, January 17, 2022
spot_img

कांग्रेस ने शुरू की कोरोना वैक्सीन पर भी सियासत: भाजपा ने इसे वैज्ञानिकों का अपमान बताया है

देश में रविवार को दो स्वदेशी कोविड वैक्सीन को कुछ शर्तों के साथ इमरजेंसी इस्तेमाल के लिए मंजूरी मिल गई है। इसके बाद से कोरोना वैक्सीन को लेकर सियासत शुरू हो गई है। एक ओर कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने वैक्सीन की मंजूरी पर सवाल उठाए हैं, जिस पर भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। भाजपा ने कांग्रेस और सपा के रवैये को देश के वैज्ञानिकों का अपमान बताया है।

भारत के औषधि महानियंत्रक (डीसीजीआई) की ओर से ऑक्सफोर्ड के टीके ‘कोविशील्ड’ और भारत बायोटेक के ‘कोवैक्सीन’ के सीमित आपात इस्तेमाल को मंजूरी दिए जाने के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर और रमेश जयराम रमेश ने भी ट्वीट किया है। कांग्रेसी नेताओं ने वैक्सीन के आपात इस्तेमाल को लेकर सवाल उठाते हुए स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से जवाब मांगा है।

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने ट्वीट किया, ”कोवैक्सीन का अभी तक तीसरे चरण का परीक्षण नहीं हुआ है। स्वीकृति समय से पहले मिली है और यह खतरनाक हो सकती है। डॉ. हर्षवर्धन को स्पष्ट करना चाहिए। पूर्ण परीक्षण समाप्त होने तक इसके उपयोग से बचा जाना चाहिए था। इस दौरान भारत एस्ट्राजेनेका वैक्सीन के साथ अभियान शुरू कर सकता है।

पूर्व मंत्री जयराम रमेश ने जताई हैरानी कांग्रेसी नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने भी इसी तरह का सवाल उठाते हुए कहा कि भारत बायोटेक प्रथम श्रेणी का उद्यम है, लेकिन हैरान करने वाली बात यह है कि तीसरे चरण के परीक्षणों से संबंधित अंतरराष्ट्रीय स्तर पर स्वीकृत प्रोटोकॉल कोवैक्सीन के लिए संशोधित किए जा रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को इसे बारे में स्पष्टीकरण देना चाहिए।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,117FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles