Thursday, June 30, 2022
spot_img

‘सांसद फ़ारूक़ अब्दुल्ला को गोद ले ले चीन’ दिल्ली में दूतावास के बाहर लगा पोस्टर

नई दिल्ली, संवाददाता। कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने पर सांसद फारूक अब्दुल्ला का हालिया बयान अब उनके गले की फांस बन चुका है। दरअसल, एक चैनल को दिए गए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला ने कहा था कि वे चीन की मदद से अनुच्छेद 370 और आर्टिकल 35 ए को फिर से लागू करवाएंगे। फारूक के इस बयान को भारतीय जनता पार्टी देश विरोधी बता चुकी है।

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा इस बयान की जमकर आलोचना कर चुके हैं। इसी के साथ अब देशभर में फारूक अब्दुल्ला के इस बयान की आलोचना हो रही है। इस बीच नई दिल्ली स्थित चीनी दूतावास के बाहर साइन बोर्ड पर हिंदू सेना द्वारा एक पोस्टर भी चिपकाया गया है। इस पोस्टर में सांसद फ़ारूक़ अब्दुल्ला की गलत टिप्पणी का विरोध करते हुए चीन से कहा गया है कि वो सांसद फ़ारूक़ अब्दुल्ला को गोद ले ले। इस पोस्टर में लिखा गया है- ‘चीन फारूक अब्दुल्ला को गोद ले ले और अपने देश ले जाए।

वहीं, नेशनल कॉन्फ्रेंस ने अब इस बात से ही इनकार किया है कि फारूक अब्दुल्ला ने कहा था कि चीन के सहयोग से अनुच्छेद 370 को बहाल किया जाएगा। सफाई में कहा गया है कि फारूक अब्दुल्ला ने रविवार को दिए साक्षात्कार में कभी भी चीन की विस्तारवादी मंशा या उसके उग्र रवैये को उचित नहीं ठहराया था, जैसा कि भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने नई दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान दावा किया है।

नेशनल कॉन्फ्रेंस की ओर से सफाई में कहा गया है कि चीन को लेकर एक सवाल के जवाब में अब्दुल्ला की टिप्पणियों को भाजपा द्वारा पूरी तरह तोड़मरोड़ कर पेश किया गया है। पार्टी की ओर से कहा गया है कि अब्दुल्ला ने कभी भी नहीं कहा कि चीन के साथ मिलकर हम अनुच्छेद 370 की वापसी कराएंगे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,375FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles