Monday, January 17, 2022
spot_img

बंगाल चुनाव :दीदी की पार्टी ने SC लोगों को भिखारी कहा, यह बाबा साहब का अपमान-PM मोदी

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के चार चरण के मतदान हो चुके हैं. आठ चरणों में हो रहे चुनाव के पांचवें चरण के लिए चुनाव प्रचार चल रहा है. इसी के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) सोमवार को चुनाव प्रचार की बागडोर संभाले हुए हैं

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हार होती देख ये क्या हो गया आपको, आपके करीबियों को? हालत तो ये हो गई है कि दीदी अब केंद्रीय वाहिनी के खिलाफ अपने कार्यकर्ताओं को भड़का रही हैं. दीदी, आपको गुस्सा करना है तो मैं हूं न, मुझ पर कीजिए. जितनी मर्जी गाली दीजिए. लेकिन बंगाल की गरिमा, बंगाल की गौरवमयी परंपरा का अपमान मत कीजिए

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के चार चरण के मतदान हो चुके हैं. आठ चरणों में हो रहे चुनाव के पांचवें चरण के लिए चुनाव प्रचार चल रहा है. इसी के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सोमवार को बर्धमान में रैली की. इस दौरान उन्होंने तृणमूल कांग्रेस नेता द्वारा अनुसूचित जाति का अपमान करने का मुद्दा उठाया. पीएम मोदी ने कहा कि बंगाल के लोगों से दीदी की नफरत बढ़ती जा रही है. दीदी के लोग बंगाल के अनुसूचित जाति (SC) के लोगों को गाली देने लगे हैं. उन्हें भिखारी कहने लगे हैं. दीदी की पार्टी ने बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर का अपमान किया है.

मोदी ने कहा, ‘बाबा साहेब की आत्मा को दीदी के कड़वे शब्द सुनकर कितना कष्ट हुआ होगा. वो राजा राम मोहन राय जिन्होंने जाति प्रथा के खिलाफ देश को झकझोरा, इस कुरीति को मिटाने के लिए देश को दिशा दिखाई, उनके बंगाल में दीदी ने दलितों को इतना बड़ा अपमान किया है.

मोदी ने ये बात टीएमसी नेता सुजाता मंडल के उस बयान पर कही, जिसमें सुजाता मंडल ने अनुसूचित जाति के लोगों को भिखारी कहा था. आरामबाग विधानसभा सीट से टीएमसी प्रत्याशी सुजाता मंडल ने कहा था कि अनुसूचित जाति के लोग स्वभाव से भिखारी होते हैं. बंगाल में ममता बनर्जी ने उनके लिए कितना कुछ किया, लेकिन फिर भी कुछ पैसों के लिए वो बीजेपी का साथ दे रहे हैं.
खैला सोचने वालों का ही हो गया खैला
बर्धमान रैली में पीएम मोदी ने एक बार फिर से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) पर तंज कसे. मोदी ने कहा, ‘चार चरणों के चुनाव में बंगाल की जागरूक जनता ने इतने चौके-छक्के मारे कि बीजेपी की सीटों की सेंचुरी हो गई है. जो आपके साथ खैला (खेल) करने की सोच रहे थे, उन्हीं के साथ खैला (खेल) हो गया है.

बर्धमान के बाद पीएम मोदी 1.45 बजे कल्याणी में जनसभा को संबोधित करेंगे. इसके बाद मोदी की तीसरी रैली 3.15 बजे बारासात में होगी.

आधे चुनाव में ही टीएमसी पूरी साफ
प्रधानमंत्री ने कहा कि आधे चुनाव में ही टीएमसी पूरी साफ हो गयी है. दीदी की बौखलाहट साफ दिख रही है और उनकी बौखलाहट बढ़ती जा रही है. प्रधानमंत्री ने कहा कि समझ नहीं आता कि दीदी को कड़वाहट इतनी पसंद क्यों है? उन्होंने कहा, ‘दीदी ने बंगाल में गवर्नेंस के नाम पर बहुत बड़ा गड़बड़झाला किया है. जन्मदिन मनाना है, तो TMC से पूछो. घर बनाना है, तो TMC को कट-मनी दो. राशन लेना है, तो TMC को कट-मनी दो. कहीं अपना सामान ले जाना है, अपना सामान लाना है, तो TMC को कट-मनी दो

बर्धमान रैली में पीएम मोदी ने कहा- ‘दीदी ने 10 साल तक मां, माटी, मानुष के नाम पर बंगाल पर राज किया है, लेकिन इन दिनों सभा में मां, माटी, मानुष नहीं बल्कि मोदी, मोदी, मोदी… करती रहती हैं.’ इस दौरान पीएम मोदी ने बंगाल में जीत का तीन मंत्र दिया. उन्होंने बांग्ला में कहा- ‘ सोकोलेर साथे, सोकोलेर विकास, सोकोलेर बिश्वास (सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास).

बढ़ रही है दीदी की बौखलाहट
मोदी ने कहा, ‘दीदी की कड़वाहट, उनका क्रोध, उनकी बौखलाहट बढ़ती ही जा रही है. जानते हैं क्यों? मैं बताता हूं. क्योंकि बंगाल में हुए आधे चुनावों में आपने टीएमसी को पूरा साफ कर दिया है. यानि आधे चुनाव में ही टीएमसी पूरी साफ.’

उन्होंने कहा, ‘एक तो नंदीग्राम में बंगाल के लोगों ने दीदी को क्लीन बोल्ड कर दिया. यानी बंगाल में दीदी की पारी समाप्त हो चुकी है. दूसरा, बंगाल के लोगों ने दीदी का बहुत बड़ा प्लान फेल कर दिया. दीदी तैयारी करके बैठी थीं कि पार्टी की कप्तानी भाइपो (भतीजे) को सौंपेंगी, लेकिन दीदी का ये खैला भी जनता ने समय रहते समझ लिया. इसलिए दीदी का सारा खैला धरा का धरा रह गया.’

पीएम मोदी ने कहा, ‘तीसरा, दीदी की पूरी टीम को ही बंगाल के लोगों ने मैदान से बाहर जाने को कह दिया है. दीदी को ये भी मालूम है कि एक बार बंगाल से कांग्रेस गई तो कभी वापस नहीं आई. वामपंथी वाले, लेफ्ट वाले गए वापस नहीं आएं. दीदी, आप भी एक बार गई तो कभी वापस नहीं आएंगी.अब दीदी बंगाल के लोगों से गुस्सा तो होंगी ही.’

बंगाल में 4 फेज और बाकी
पश्चिम बंगाल की 294 सीटों पर इस बार 8 फेज में वोटिंग हो रही है. पहले फेज में 27 मार्च को 30 सीट, 1 अप्रैल को दूसरे फेज में 30 सीट और तीसरे फेज में 6 अप्रैल को 31 सीटों पर तो 10 अप्रैल को 44 सीटों पर वोटिंग हो चुकी है. इसके बाद 17 अप्रैल को पांचवें चरण के तहत 45 सीट, 22 अप्रैल को छठे चरण में 43 सीट, सातवें चरण में 26 अप्रैल को 36 सीट और 29 अप्रैल को आठवें चरण में 35 सीटों पर वोटिंग होनी है. काउंटिंग 2 मई को होगी.

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,117FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles