Wednesday, July 6, 2022
spot_img

विधानसभा चुनाव2022:यूपी में हिंदुत्व से ज्यादा भेड़त्व चला…

… 300 सीट नहीं मिलने की तकलीफ ! 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हिंदुत्व को लेकर अभूतपूर्व कार्य किए… योगी जी का मनोबल बढ़ाने के लिए हिंदुओं को कम से कम 300 सीटें योगी जी को जरूर देने चाहिए थी… लेकिन हिंदुओं ने एक बार फिर वोटिंग के पुराने जाति पाति वाले पैटर्न पर वापस लौट कर वोट दिया

Arun (Editore)

मुसलमानों ने इस चुनाव में अभूतपूर्व वोटिंग की है… मुस्लिम बहुल सीटों पर बीजेपी को 30 सीटों का नुकसान हो गया… कैराना में मुसमलानों ने 97 प्रतिशत वोट दिया जबकि हिंदुओं ने सिर्फ 55 प्रतिशत ही वोट दिया… दुख की बात है कि गृहमंत्री दिल्ली से कैराना आए लेकिन हिंदुओं ने कैराना में वोटिंग नहीं की और आलस्य का शिकार रहे 
एक लेख मैंने लिखा था कि सवर्ण जातियों का एक वर्ग हिंदुत्व से गद्दारी कर रहा है… ये बात नतीजों से सही साबित हुई हैं… बीएसपी के टिकट पर लड़ने वाले ब्राह्मण ठाकुर सवर्ण बाहुबलियों को हिंदुओं ने एक एक सीट पर 40-40 हजार तक वोट दिए हैं… इससे समझ में आता है कि श्री राम मंदिर के लिए उनका कमिटमेंट क्या है ? 

500 सालों के बाद श्री राम मंदिर का शिलान्यास हुआ… 350 सालों बाद काशी विश्वनाथ कॉरिडोर बनाकर जीर्णाद्धार हुआ… इतना काम होने के बाद तो बीजेपी के नेताओं को घऱ घर जाकर वोट मांगने की जरूरत ही नहीं पड़नी चाहिए थी । लेकिन ये दुख की बात है कि कुछ लोगों ने ये कहकर बीजेपी के विधायक प्रत्याशी का मजाक उड़ाया  कि वो हमसे वोट मांगने नहीं आया 
मेरी विधानसभा सीट पर सपा से एक मुस्लिम प्रत्याशी खड़ा था और वो एक भी मुसलमान से वोट मांगने नहीं गया… उसने जरा भी पैसा खर्च नहीं किया क्योंकि वो जानता था कि मुसलमान उसको पक्का वोट देंगे और थोड़े बहुत मूर्ख हिंदुओं का वोट मिलने से वो जीत जाएगा लेकिन दूसरी तरफ बीजेपी के प्रत्याशी ने अपने पूरे परिवार के साथ दिन रात एक कर दिया… एक एक घऱ में दो दो बार दौरे किए… लेकिन फिर भी हिंदुओं ने दोगलई कर दी… जातिवाद पर वोट बंट गया और सपा का मुस्लिम प्रत्याशी 100 रुपए का पेट्रोल खर्च करके जीत का सर्टिफिकेट लेकर आ गया ।

मैं उस सपा मुस्लिम प्रत्याशी का एक भी पर्चा कहीं पूरे क्षेत्र में नहीं देखा था । मुस्लिम वोटर इतना जागरूक होता है  ! इसलिए बीजेपी की 275 सीटों ने भी मुझे कोई खुशी नहीं दी… बल्कि हिंदुओं का भेड़त्व देखकर मैं और दुखी हुआ 

कुंडा में मुसलमानों ने डीएसपी जिया उल हत्याकांड के मुख्य आरोपी गुलशन यादव को वोट किया क्योंकि वो इतने जागरूक हैं कि जानते हैं कि गुलशन यादव जीतेगा तो हाथ अखिलेश का मजबूत होगा आजम खान जेल से बाहर आएगा

-दूसरी तरफ ब्राह्मण बहुल इलाकों में बीजेपी को 8 सीटों का नुकसान हुआ है… मैं जब क्षेत्र में घूमा था तो ये पता चला कि ब्राह्मणों के बीच अफवाह फैली हुई है कि योगी ठाकुरवादी हैं और उन्होंने 450 ब्राह्मणों के एनकाउंटर करवा दिए जबकि ये बात पूरी तरह से झूठी थी… मूर्खता की पराकाष्ठा ये है ! 
-2 साल तक मुफ्त राशन… लाखों मकानों का दान.. शौचालयों का निर्माण… ई श्रम कार्ड के नाम पर हजार रुपए… किसान सम्मान निधि… उज्जवला… मुफ्त के नाम पर अरबों खरबों रुपया बांटने के बाद भी अगर बीजेपी में सिर्फ 275 सीटें ही आती हैं तो इसका मतलब ये है कि यूपी के अंदर आज भी हिंदुत्व से ज्यादा  भेड़त्व ही चल रहा है ।

Related Articles

Stay Connected

0FansLike
3,381FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles