Thursday, September 29, 2022
spot_img

एंटी भूमाफिया अभियान धराशायी,जमीन-तो-जमीन, तालाबों और नालों का अस्तित्व भी खतरे में !

जमीन-तो-जमीन, तालाबों और नालों का अस्तित्व भी खतरे में!एंटी भूमाफिया अभियान धराशायी,भूदान की जमीन पर गरज रहे बुलडोजर नकराही में भूमाफियाओं का आतंक,प्रशासन मौन 
सुलतानपुर-अंजलि सिंह राजपूत- जिले में शासन की एंटी भूमाफिया के खिलाफ चलाए जाने वाले अभियान की धज्जियां उड़ रही है। जमीन के लिए कहीं खून बह रहा है तो कहीं लाठियां चल रही है। कब्जे की होड़ में भूमाफिया सरकारी जमीनों को निगलते जा रहे हैं। रात-दिन चल रहे बुलडोजर की गड़-गड़ाहट भी प्रशासन को नहीं सुनाई दे रही है। सरकारी जमीनों के साथ-साथ कमजोर वर्ग की जमीनें भी दबंगों की शिकार बन रही है।      

 प्रदेश सरकार ने कई योजनाओं के साथ-साथ यह सख्त निर्देश दे रखे हैं कि भूमाफियाओं के खिलाफ अभियान चलाया जाय। इस अभियान को एंटी भूमाफिया का नाम दिया गया है, लेकिन जिले में अभियान की कौन कहे, बल्कि ठीक इसके उलट कार्य हो रहा है। ग्रामीणांचलों से लेकर शहर में भी कमजोर वर्गों की जमीने दबंग हड़प रहें हैं।

सरकारी जमीने भूमाफियाओं के लिए आसान चारा साबित हो रही है। एक-एक कर तालाबों का अस्तित्व ही समाप्त होता जा रहा है। कोतवाली नगर थाना क्षेत्र के नकराही ग्राम सभा क्षेत्र में एक ताजा मामला प्रकाश में आया है। इस ग्राम सभा में भूदान समिति की लगभग 50 बीघा जमीन खाली पड़ी हुई है। जिस पर अब भूमाफियाओं ने नज़रें गड़ा दी है।

सरकारी अभिलेखों में यह जमीन राजस्व विभाग की है, लेकिन अब भूमाफिया के कदम यहां पड़ चुके हैं। भूदान समिति के बगल स्थित भूमि के मालिक किसानों से भूमि को औने-पौने दामों में एग्रीमेंट कराकर लेखपाल व राजस्व विभाग के कर्मचारियों की मिली-भगत से जमीन हड़पने की तैयारी शुरू हो चुकी है।

पिछले 10 दिनों से बुलडोजर चलाकर टीले आदि गिराकर भूमि के समतलीकरण का कार्य दिन-रात चल रहा है।    यह समतलीकरण गाटा संख्या-828,829,234 खा,834 गा के कब्जा करने की नीयत से किया जा रहा है। जब दबंगों की इस कार्यवाही का कुछ लोगों ने विरोध किया तो उन्हें धमकियां मिली। राजस्व विभाग में शिकायत की गयी तो मौके पर पहुंचा लेखापाल ने कार्यवाही तो दूर काम रोकने के बजाए उल्टे पांव वापस लौट गए। पुलिस को सूचना दी गयी तो जवाब मिला यह राजस्व विभाग से सम्बंधित मामला है। उनके आदेश से ही काम रूक सकता है।

मुख्यमंत्री के एंटी भूमाफिया अभियान की धज्जियां उड़ाते हुए भूदान समिति की जमीन पर रात-दिन बुलडोजर गरज रहें हैं। समिति की जमीनों की आड़ में अगल-बगल के कुछ किसानों की जमीन भी भूमाफियाओं ने कब्जे के प्रयास करना शुरू कर दिया है। जिस पर गांव के आजाद अहमद, मुजीब अहमद, मेराज, आफताब आलम, मो. कलीम, बब्लू, आदि ने उपजिलाधिकारी, जिलाधिकारी समेत मुख्यमंत्री को शिकायती पत्र भेजा है, लेकिन सप्ताह भर बाद भी निर्माण कार्य नहीं रूका है। 

प्रभारी डीएम ने दिलाया कार्यवाही का भरोसा सुलतानपुर। एंटी भूमाफिया अभियान के बारे में उपजिलाधिकारी सदर से कई बार संपर्क करने का प्रयास किया गया। कभी उन्होंने मीटिंग में होने की बात कही तो कभी तबियत खराब होने की बात बताई। जमीन कब्जे के मामले पर उन्होंने अपने परेशानियाॅ जाहिर कर टिप्पणी करने से इंकार किया। वहीं प्रभारी जिलाधिकारी अतुल वत्स ने बेबाकी से इस मुद्दे पर जवाब दिया। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी छुट्टी पर हैं। उनके पास चार्ज तो है, लेकिन यह मामला संज्ञान में नहीं है, उन्हें तुरंत शिकायतकर्ताओं से सम्पर्क की बात कहते हुए कहा कि कहीं भी सरकारी जमीन पर कब्जा नहीं होने दिया जाएगा। श्री वत्स ने कहा कि उपजिलाधिकारी के पास वे यह मामला भेजकर त्वरित कार्यवाही करवाएंगे।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

0FansLike
3,505FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles