Saturday , July 4 2020 [ 7:13 AM ]
Breaking News
Home / अन्य / इन होम्योपैथिक नुस्खों से जड़ से खत्म होगा दांत का दर्द
इन होम्योपैथिक नुस्खों से जड़ से खत्म होगा दांत का दर्द Capture 3 572x330

इन होम्योपैथिक नुस्खों से जड़ से खत्म होगा दांत का दर्द

हम में से कई लोग अपनी जिदंगी में कभी न कभी दांत में दर्द से परेशान जरूर होते हैं। दांत में दर्द को नजरअंदाज भी नहीं किया जा सकता है। अगर ऐसा करने की कोशिश भी करें तो असहनीय दर्द जीना मुश्किल कर देता है। दांत में दर्द की वजह से खाना और यहां तक कि बात करना या काम कर पाना भी मुश्किल हो जाता है।

इन होम्योपैथिक नुस्खों से जड़ से खत्म होगा दांत का दर्द Capture 3

ये एक आम समस्‍या है जो कभी न कभी हर इंसान को परेशान जरूर करती है। हालांकि, हर किसी को अलग-अलग वजहों से दांत में दर्द की शिकायत हो सकती है। किसी को दांत में कीड़ा लगने तो किसी को मसूड़ों में सूजन की वजह से दांत में दर्द हो सकता है। दांत में दर्द को दूर करने के लिए आपने अब तक आयुर्वेदिक उपायों और घरेलू नुस्‍खों के बारे में पढ़ा और सुना होगा लेकिन आपको बता दें कि दांत में दर्द के लिए होम्‍योपैथिक नुस्‍खे भी मौजूद हैं

यहां हम आपको दांत में दर्द के कुछ कारगर होम्‍योपैथिक नुस्‍खों के बारे में बताने जा रहे हैं।

सिलिसिया
दांत की रूट में पस पड़ने के कारण दांत में दर्द होने की समस्‍या को दूर करने के लिए सिलिसिया बेहतरीन होम्‍योपैथिक दवा है। पस पड़ने के कारण मसूड़ों और गालों में सूजन से राहत दिलाने में भी सिलिसिया मददगार है।

स्टेफिसेग्रिया
दांतों में सेंसिटिविटी के साथ-साथ कुछ भी खाने या पीने पर दांत में दर्द होने की समस्‍या को स्टेफिसेग्रिया से ठीक किया जा सकता है। स्टेफिसेग्रिया मसूड़ों से खून आने और अत्‍यधिक लार बहने की भी असरकारी दवा है।

प्‍लांटेगो
दांत में दर्द से छुटकारा पाने के लिए प्‍लांटेगो बहुत लोकप्रिय दवा है। ये दांतों में सेंसिटिविटी का इलाज करने में भी उपयोगी है। दांत का दर्द जब बढ़ कर कानों तक पहुंच जाए तो इस दिक्‍कत को भी दूर करने में प्‍लांटेगो प्रभावी है। दांत में गंभीरता और इससे जुड़ी किसी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या के आधार पर प्‍लांटेगो को लगाने या खाने के लिया दिया जा सकता है।

दांत के दर्द से राहत देंगे घरेलू उपाय

  • दांतों और मसूड़ों का दर्द आपको काफी परेशान कर देता है। दांत या मसूड़े में किसी भी तरह की समस्या में दर्द से तो परेशान होते ही हैं, इसके अलावा खाना-पीना भी ठीक से नहीं हो पाता है जिससे परेशानी बढ़ जाती है। आइए, आपको बताते हैं इनसे छुटकारा पाने के कुछ घरेलू उपाय।
  • नमक का पानी आपको इनफेक्शन से बचाता है और दांतों के बीच में फंसे खाने को भी निकालने में मदद करता है। इससे सूजन भी खत्म हो जाती है और मसूड़ों में मौजूद बैक्टीरिया भी खत्म होते हैं। गुनगुने पानी में आधा चम्मच नमक मिलाकर उस पानी को कुछ देर मुंह में रखें और कुल्ला कर लें।
  • लहसुन अपने औषधीय गुणों के कारण जाना जाता है। इसे आमतौर पर सर्दी-जुकाम ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह मुंह के बैक्टीरिया को खत्म करने की भी क्षमता रखता है और पेनकिलर का भी काम करता है। लहसुन की एक कली को पील लें और इस पेस्ट को मसूड़े या दांत पर लगाएं।
  • दांत में दर्द से राहत देने के लिए लौंग भी काफी कारगर है। इसे मुंह में दबाए रखें। दर्द से राहत मिलेगी।
  • चाय में टैनिन नाम का कम्पाउंड होता है जो बैक्टीरिया का खत्म कर सकता है। ऐसे में टी बैग्स भी आपको दांट के दर्द से छुटकारा दिला सकते हैं। टी बैग को गर्म पानी में उबले हुए पानी में डालकर 5 मिनट तक छोड़ दें। इसके बाद इसे निकालें जब थोड़ा ठंडा हो जाए तो उस जगह पर लगाएं जहां दर्द हो रहा है।
  • दांतों के हल्के दर्द को आप घरेलू उपाय से ठीक कर सकते हैं लेकिन अगर दर्द ज्यादा है तो आपको डेन्टिस्ट से मिलना चाहिए।

अर्निका
दांत निकलवाने और दांतों की फिलिंग के बाद मसूड़ों में होने वाले दर्द के इलाज में होम्‍योपैथिक दवा अर्निका बहुत उपयोगी है। अर्निका दर्द निवारक दवा के रूप में काम करती है। विभिन्‍न स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं के होम्‍योपैथी इलाज में अर्निका का इस्‍तेमाल किया जाता है।

मर्क सोल
हैलिटोसिस (सांस की बदबू)और अत्‍यधिक लार आने की वजह से लगातार दांत में दर्द महसूस हो सकता है। मर्क सोल से इस परेशानी से निजात पाई जा सकती है। मसूड़ों से खून आने, दांतों में ढीलापन और सेंसिटिविटी को भी इस दवा से ठीक किया जा सकता है।

अगर आपको भी किसी न किसी वजह से दांत में दर्द की शिकायत रहती है तो होम्‍योपैथिक नुस्‍खों की मदद से आप इस समस्‍या से हमेशा के लिए छुटकारा पा सकते हैं। एक बात का ध्‍यान रखें कि किसी भी बीमारी या स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍या के लिए अनुभवी होम्‍योपैथिक चिकित्‍सक की सलाह के बाद ही होम्‍योपैथिक दवा का सेवन करना चाहिए।

नोट: होम्‍योपैथिक इलाज तभी असरकारी और फायदेमंद होता है, जब इन्‍हें अनुभवी होम्‍योपैथिक चिकित्‍सक की देखरेख और सलाह पर लिया जाए। अपनी मर्जी से दांत में दर्द की किसी भी होम्‍योपैथिक दवा का सेवन न करें।

About Arun Kumar Singh

Check Also

भदेठी: दलितों के घर जलाने वाले नहीं बख्शे जाएंगे -गिरीश चन्द यादव,भाजपा ने दिए राशन, कपड़े और जरूरत मन्द सामान Capture 9 310x165

भदेठी: दलितों के घर जलाने वाले नहीं बख्शे जाएंगे -गिरीश चन्द यादव,भाजपा ने दिए राशन, कपड़े और जरूरत मन्द सामान

जौनपुर के भादेथी गाव की आगजनी घटना पर पहुचे मंत्री गिरीश यादव साथ में है …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.