Saturday , July 4 2020 [ 8:04 AM ]
Breaking News
Home / स्वास्थ्य / ऐसे बढ़ाएं शरीर की इम्यूनिटी, ताकि आसानी से बीमार न पड़ें आप
ऐसे बढ़ाएं शरीर की इम्यूनिटी, ताकि आसानी से बीमार न पड़ें आप Capture       506x330

ऐसे बढ़ाएं शरीर की इम्यूनिटी, ताकि आसानी से बीमार न पड़ें आप

कोरोना वायरस ने इस वक्त दुनियाभर में आतंक मचा रखा है। लेकिन यह भी सच है कि कोरोना आखिरी वायरस नहीं है, आगे भी कई जानलेवा वायरस आएंगे। जरूरी है कि आप अपनी इम्यूनिटी बढ़ाएं और खुद को अंदर से मजबूत बनाएं ताकि आप आसानी से बीमार न पड़ें।

ऐसे बढ़ाएं शरीर की इम्यूनिटी, ताकि आसानी से बीमार न पड़ें आप Capture

कोरोना वायरस से क्या बच्चे, क्या बड़े सभी डरे हुए हैं। एक्सपर्ट्स और डॉक्टरों का कहना है कि जिनके शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत है, वे इसका सामना अच्छी तरह से कर सकते हैं। वैसे, इम्यून सिस्टम एक-दो दिन या एक-दो हफ्तों में मजबूत नहीं होता। इसके लिए आपको नियमित रूप से अपने खान-पान और लाइफस्टाइल से जुड़ी कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना होता है। लेकिन यह भी सच है कि कोरोना आखिरी वायरस नहीं है, आगे भी कई जानलेवा वायरस आएंगे। जरूरी है कि आप अपनी इम्यूनिटी बढ़ाएं और खुद को अंदर से मजबूत बनाएं ताकि आप आसानी से बीमार न पड़ें।

इन लोगों की इम्यूनिटी होती है कमजोर-किडनी, कैंसर, डायबीटीज, दिल की बीमारी आदि के मरीज का इम्यून सिस्टम कमजोर होता है। इसलिए इन्हें ज्यादा ध्यान रखने की जरूरत होती है। चूंकि आजकल शुगर की बीमारी काफी कॉमन है और लोग इसके लिए लापरवाह भी होते हैं। इसलिए इन्हें अपनी इम्यूनिटी पर ध्यान जरूर देना चाहिए।

– 60 साल से ज्यादा उम्र वाले बुजुर्ग (इनका इम्यून सिस्टम कमजोर होना शुरू हो चुका होता है) और बच्चे (इनका इम्यून सिस्टम पूरी तरह विकसित नहीं हुआ होता) कमजोर इम्यून सिस्टम की वजह से रोग के ज्यादा शिकार होते हैं। बच्चों के मामलों में पैरंट्स को ध्यान देने की जरूरत होती है।

इनके सेवन से बनेंगे अंदर से मजबूत
– लहसुन काफी मात्रा में ऐंटिऑक्सिडेंट बनाकर इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है और बीमारियों से लड़ने की ताकत देता है। इसमें एलिसिन नामक ऐसा तत्व पाया जाता है जो शरीर को इंफेक्शन और बैक्टीरिया से लड़ने में सक्षम बनाता है।

– पालक में फॉलेट नामक ऐसा तत्व पाया जाता है जो शरीर में नई कोशिकाएं बनाने के साथ कोशिकाओं में मौजूद डीएनए की मरम्मत का भी काम करता है। फाइबर, आयरन, विटमिन-सी शरीर को हर तरह से स्वस्थ बनाए रखता है।

– मशरूम वाइट ब्लड सेल्स को सक्रिय करने में सहायक होता है। इसमें सेलेनियम नामक मिनरल, ऐंटिऑक्सिडेंट तत्व, विटमिन-बी, रिबोफ्लेविन और नाइसिन नामक तत्व पाए जाते हैं।

– ठंडी बोतल फ्रिज से सीधे निकालकर पीने से बचें। गर्मियों में घड़े का पानी और सर्दियों में गुनगुना पानी बेहतर विकल्प है। ज्यादा ठंडा पानी पीने से गले के अंदर मौजूद म्यूकस खुरदरा हो जाता है। इससे बैक्टीरिया या वायरस को शरीर के अंदर पहुंचकर इंफेक्शन पैदा करने का मौका मिल जाता है। इसलिए ध्यान रखना जरूरी है।

  • इस जानलेवा वायरस से बचने का इलाज अब तक खोजा नहीं जा सका है। ऐसे में डॉक्टर्स और एक्सपर्ट्स भी यही मानते हैं कि इस बीमारी से बचना ही सबसे बेहतर बचाव है। इस दौरान अपनी डेली लाइफस्टाइल, फिजिकल ऐक्टिविटी और खानपान का पूरा ध्यान रखें। अपनी डेली डायट में ऐसी चीजों को शामिल करें जिसमें ऐंटी-वायरल प्रॉपर्टीज हो ताकि आपकी इम्यूनिटी स्ट्रॉन्ग बने और आपका शरीर हर तरह की बीमारी से बचा रहे।
  • बेसिक हाइजीन यानी साफ-सफाई का भी पूरा ध्यान रखें। दिनभर में कई बार ऐंटिसेप्टिक हैंड वॉश का इस्तेमाल कर हाथों को अच्छी तरह से साफ करते रहें। अगर घर से बाहर हों तो ऑइल-बेस्ड हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें। गंदे हाथों से अपनी आंख, नाक और मुंह को बिलकुल न छूएं। इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाने में खाने पीने की चीजों का भी अहम रोल होता है। लिहाजा चेंजिंग वेदर में जब वायरस भी काफी फैला हुआ है कच्ची चीजें जैसे- कच्चा मीट, कच्चा अंडा और कच्ची सब्जियों का सेवन बिलकुल ना करें। इसके अलावा इंफेक्शन से बचने के लिए इम्यून सिस्टम ठीक करना जरूरी है। कुछ ऐसी चीजें हैं जिन्हें अगर आप डायट में शामिल कर लें तो आपकी इम्यूनिटी मजबूत बन सकती है।
  • ऐंटी-वायरल और ऐंटी-इन्फ्लेमेट्री प्रॉपर्टी से भरपूर तुलसी का रोजाना सेवन करें, इससे आपकी रोगों से लड़ने की ताकत मजबूत बनेगी। लेकिन बेहद जरूरी है कि आप तुलसी का सेवन सुबह के समय खाली पेट में करें। रोजाना तुलसी की 5 पत्तियों को 1 चम्मच शहद और 3-4 काली मिर्च के दानों के साथ खाएं, इम्यूनिटी मजबूत बनेगी।
  • ये बीज सेलेनियम के बेहतरीन सोर्स हैं, जो हमारी कोशिकाओं के नुकसान की भरपाई करते हैं। ये विटमिन ई के भी अच्छे स्रोत हैं, यानी यह आपको बाहरी इंफेक्शन से भी बचाते हैं। सूरजमुखी के बीज को आप सलाद के साथ मिलाकर खा सकते हैं या फिर ऐसे ही मसाला मिलाकर खाएं।
  • हल्दी और अदरक में पाया जाने वाला ऐंटिऑक्सिडेंट और ऐंटी-इंफ्लेमिट्री कंपाउंड ऐलर्जी से लड़ता है। ऐंटी-वायरल और जिंजरॉ से भरपूर अदरक और कर्क्युमिन से भरपूर हल्दी दोनों ही आपकी इम्यूनिटी को स्ट्रॉन्ग बनाने में मदद करते हैं। एक छोटा चम्मच हल्दी पाउडर को गरम दूध में डालकर पिएं और अदरक की चाय का सेवन करें या फिर आप अदरक को शहद के साथ खा सकते हैं।
  • पॉलिफेनॉल्स और प्लांट ऐंटिऑक्सिडेंट दालचीनी को इम्यूनिटी दुरस्त रखने की ताकत देते हैं। इसके ऐंटि-वायरल और ऐंटि-फंगल होने की खासियत ही इसे कोल्ड और फ्लू के लिए बेहतर दवा के तौर पर पेश करती है। आप चाहें तो दालचीनी के पाउडर को चाय में छिड़क कर या पैनकेक आदि में डालकर इसका सेवन कर सकते हैं।
  • इसमें ऐंटी-ऐलर्जिक सीलियम और ओमेगा-3 फैटी ऐसिड होता है। एक चम्मच अलसी के बीज को गरम दूध के साथ पिएं। सलाद, दही के साथ भी खा सकते हैं। अलसी भी आपके रोगों से लड़ने की क्षमता को मजबूत बनाने में मदद करती है।

लाइफस्टाइल में करें बदलाव
– रोज 45 मिनट से 1 घंटे तक का ब्रिस्क वॉक या फिर कोई भी ऐरोबिक्स एक्सर्साइज करनी चाहिए।
– रात में सोते समय गुनगुने पानी से गरारे करें। दिन भर बाहर रहने से भी वायरस या बैक्टीरिया नाक और मुंह के माध्यम से गले तक पहुंचता है। वह गरारे से खत्म हो जाएगा।
– योग को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनाएं। हर दिन 15 मिनट से 30 मिनट तक अनुलोम-विलोम और सूर्य नमस्कार करने से फायदा होता है।
– पर्याप्त नींद जरूर लें। आपकी लाइफ कितनी भी बिजी हो, नींद के साथ समझौता न करें। यह देखा गया है कि जो लोग पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं वे ज्यादा बीमार होते हैं।
– वजन को नियंत्रित रखें। ओवरवेट होने पर शरीर के तमाम तंत्र पर बुरा असर पड़ता है जो इम्यून सिस्टम को कमजोर बनाता है।
– स्मोकिंग और शराब पीने की लत शरीर को कई तरह से नुकसान पहुंचाती है।

इन उपायों से भी बढ़ेगी इम्यूनिटी
गिलोई का रस या काढ़ा

करीब चार इंच लंबाई में गिलोई का तना लें। उसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर, मिक्सी में पीस कर पेस्ट बना लें। फिर चार कप पानी में एक चौथाई चम्मच हल्दी के साथ उस पेस्ट को उबाल लें। यह ध्यान रखें कि ढक कर नहीं उबालना है। जब उबलते हुए एक कप बच जाए तो उसमें एक चुटकी काली मिर्च मिलाकर सुबह खाली पेट पीना है।

आंवले का चूर्ण
आधा चम्मच आंवले का चूर्ण एक चम्मच शहद के साथ सुबह खाली पेट पीने से फायदा होगा। इससे इम्यूनिटी भी बढ़ेगी और पाचन भी सही होगा।

त्रिफला चूर्ण
आधा चम्मच त्रिफला चूर्ण, गुनगने पानी के साथ शाम में लें।

About Arun Kumar Singh

Check Also

खून की कमी को चंद दिनों में करती है दूर ये हरी पत्तियां, गुणों में चुकंदर को भी देती हैं मात Capturefff 310x165

खून की कमी को चंद दिनों में करती है दूर ये हरी पत्तियां, गुणों में चुकंदर को भी देती हैं मात

शरीर में खून की कमी कई रोगों को निमंत्रण देती है। व्यक्ति के शरीर में …

Leave a Reply

Copyright © 2017, All Right Reversed.